एंड्रयू टाई की आखिरी ओवर में ली गई हैट्रिक के कमाल के बाद बल्लेबाजों के बेहतरीन प्रदर्शन के दम पर गुजरात लायंस ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 10वें संस्करण के 13वें मैच में शुक्रवार को राइजिंग पुणे सुपरजाएंट को सात विकेट से हराकर इस साल की अपनी पहली जीत दर्ज की। पुणे ने मेजबान गुजरात के सामने 172 रनों का लक्ष्य रखा था, जिसे उसने 18 ओवरों में तीन विकेट खोकर हासिल कर लिया। टाई के बाद गुजरात के लिए ड्वेन स्मिथ (47) और ब्रैंडन मैक्कलम (49) की सलामी जोड़ी ने उसे मजबूत शुरुआत दी और पहले विकेट के लिए 8.5 ओवरों में 94 रन जोड़कर गुजरात की जीत की नींव रखी। इन दोनों के जाने के बाद कप्तान सुरेश रैना (नाबाद 35) और एरॉन फिंच (नाबाद 33) ने टीम को जीत दिलाई।

इससे पहले बल्लेबाजी करने उतरी पुणे ने निर्धारित 20 ओवरों में आठ विकेट खोकर 171 रन बनाए थे। उसका यह स्कोर और ज्यादा होता लेकिन, अंतिम ओवर में टाई ने हैट्रिक लेकर उसे यहीं तक सीमित रखा। पुणे के लिए कप्तान स्टीवन स्मिथ ने 43, राहुल त्रिपाठी ने 33, मनोज तिवारी ने 31 और अंकित शर्मा तथा बेन स्टोक्स ने 25-25 रनों का योगदान दिया। आखिरी ओवर में एंड्रयू टाई की हैट्रिक के दम पर गुजरात लायंस ने राइजिंग पुणे सुपरजाएंट को इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 10वें संस्करण के मैच में शुक्रवार को 171 रनों पर रोक दिया। पुणे की टीम इससे ज्यादा रन बनाती, लेकिन टाई ने आखिरी ओवर में लगातार तीन विकेट लेकर उसे और आगे नहीं जाने दिया। अंत के ओवरों में अंकित शर्मा (25) और मनोज तिवारी (31) तेजी से रन बना रहे थे। टाई ने आखिरी ओवर की पहली गेंद पर ब्रैंडन मैक्कलम ने अंकित का शानदार कैच पकड़ा।

इसी ओवर की दूसरी गेंद पर टाई ने तिवारी को सीमा रेखा के पास ईशान किशन के हाथों कैच कराया और तीसरी गेंद पर शार्दुल ठाकुर को बोल्ड कर अपनी हैट्रिक पूरी की। यह टाई का आईपीएल में पहला मैच है। टाई ने अपने कोटे के चार ओवरों में महज 17 रन दिए और पांच विकेट हासिल किए। इससे पहले पुणे की शुरुआत खराब रही और मैच की तीसरी गेंद पर प्रवीण कुमार ने अंजिक्य रहाणे (0) को पवेलियन भेजा। गेंद रहाणे के बल्ले का बाहरी किनारा लेकर स्लिप में गई जहां गुजरात के कप्तान सुरेश रैना ने रहाणे का शानदार कैच लपका। हालांकि इसके बाद दूसरे सलामी बल्लेबाज राहुल त्रिपाठी (33) और कप्तान स्टीवन स्मिथ (43) ने मिलकर टीम का स्कोर 64 तक पहुंचाया। इन दोनों ने 5.2 ओवरों 12 की औसत से रन जोड़े। टाई ने एरॉन फिंच के हाथों त्रिपाठी को कैच करा इस साझेदारी को तोड़ा। त्रिपाठी ने अपनी पारी में तीन चौके और दो छक्के लगाए।

अर्धशतक की ओर बढ़ रहे पुणे के कप्तान स्मिथ की पारी का अंत ड्वायन स्मिथ ने किया। स्मिथ ने 28 गेंदों का पारी में छह चौके और एक छक्का लगाया। बेन स्टोक्स ने 18 गेंदों में 25 रनों का पारी खेली लेकिन, वह इसे और आगे नहीं ले जा पाए और टाई की गेंद पर बोल्ड हो गए। पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धौनी एक बार फिर बल्ले की जंग को दूर नहीं पाए और आठ गेंद में सिर्फ पांच रन ही बना पाए। इसके बाद अंकित और तिवारी ने छठे विकेट के लिए 47 रनों की साझेदारी करते हुए टीम को 171 के स्कोर तक पहुंचाने में मदद की। टाई को उनकी बेहतरीन गेंदबाजी के लिए मैन आॅफ द मैच के खिताब से नवाजा गया।

SHARE